Launch date of Starlink in India

एलोन मस्क का स्टारलिंक 31 जनवरी, 2022 तक भारत में वाणिज्यिक लाइसेंस के लिए आवेदन करेगा

Elon Musk का SpaceX अगले साल यानि कि 2022 तक भारत में अपनी Starlink उपग्रह ब्रॉडबैंड सेवाओं को भारत में लॉन्च करने के लिए commercial permit के लिय 31 जनवरी, 2022 तक आवेदन कर सकता है। 

SpaceX ने Starlink के लिए 48 क्रत्रिम उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजा हैं जिससे कि दुनिया के कोने कोने में लोगों को अच्छा इंटरनेट मुहैया कराया जा सके।

Starlink के भारतीय CEO ने कहा है कि हमनें इस उम्मीद से आवेदन किया है कि हमे 31 जनवरी, 2022 वाणिज्यिक लाइसेंस (commercial permit) मिल जाएगा। साथ ही यह भी कहा है कि इसमे कुछ बड़े लोग (जैसे - jio) बाधा डाल सकते हैं। यदि ऐसा हुआ तो यह भारत के लोगों के साथ अन्याय होगा। क्युकी Starlink वहुत ही अच्छा और सस्ता नेटवर्क है। और इससे बड़ी बड़ी कंपनियों की छुट्टी होने वाली है।

Elon Musk in India with Modi

महंगे रिचार्ज और घटिया सर्विस

जैसा कि आप सब लोग जानते है अंबानी की Jio कंपनी अपनी मनमानी कर रही है और लोगों को मजबूरी में महंगे रिचार्ज करने पड़ रहे हैं। जब से जिओ आया है तब से इस कंपनी ने जो किया है उससे लोगों को कॉल receive करने के भी पैसे देने पड़ने लगे है। यदि यही हाल रहा तो एक दिन आपको फोन आने के लिए भी 500/माह रिचार्ज करना पद सकता है।

इंटरनेट स्पीड

जिओ और अन्य टेलीकॉम कंपनियों की 4g इंटरनेट स्पीड इतनी घटिया है कि, लोग गूगल पर सर्च भी नहीं कर सकते। एक रिपोर्ट के मुताबिक जिओ की औसत इंटरनेट स्पीड मात्र 100kb/sec हैं। जो इंटरनेट ब्राउज़ करने में भी परेशानी उत्पन्न करता है।

Starlink के आने से शहरी और ग्रामीण इलाकों में इंटरनेट का भेदभाव कम होगा, और बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

जैसा कि आप सभी जानते हैं गांवों में कोई भी कंपनी अच्छा इंटरनेट Provide नहीं करती है। जिससे जो talented लोग हैं वो अपना talent दुनिया को नहीं दिखा पाते हैं। और वो धन अर्जित नहीं कर पाते । और शहर के कुछ बिगड़ैल लड़के जैसे कि carryminati गाली देकर धन अर्जित करता है। वह गेम बिल्कुल भी नहीं खेल पाता।

स्टारलिंक के आने से भारत के कोने कोने से हमें youtube जैसे प्लेटफ़ॉर्म पर विभिन्न प्रतिभाएं देखने को मिलेंगी। क्युकी Starlink की नॉर्मल स्पीड ही 200mb से 300mb प्रति सेकंड हैं । और साथ ही अच्छा response time भी।

जिओ सबसे बढ़ा रोड़ा स्टारलिंक के आने में, बढ़ सकती हैं जिओ की मुश्किलें

स्टारलिंक के आने से इसका सीधा सीधा प्रतिद्वंदी अंबानी का जिओ होगा और दूसरा एयरटेल। ऐसे में अंबानी और अन्य चाहेगे कि स्टारलिंक इंडिया में कभी लॉन्च हो ही ना। क्युकी स्टारलिंक की सर्विस इतनी अच्छी होने वाली है कि अन्य कंपनियां इसके सामने टिक नहीं पायेंगी।

अंत में बस इतना ही कहना चाहेगे कि ये जो भारत में अंबानी की जिओ है जो दिन पर दिन रिचार्ज बढ़ा रही है इसके दिन ढल जायेगे यदि स्टारलिंक भारत में गया।